रिव्यू – मुक्केबाजी पर बनी बेहतरीन फिल्म है ‘मुक्काबाज़’

Review of Mukkabaaz
फिल्म – मुक्काबाज़
स्टारकास्ट – विनीत कुमार सिंह, ज़ोया हुसैन, जिमी शेरगिल
डायरेक्टर – अनुराग कश्यप
प्रोडूयसर – आनंद एल राय, अनुराग कश्यप
रेटिंग – 3 स्टार
 
 
पंकज पाण्डेय
 
 
अनुराग कश्यप निर्देशित फिल्म ‘मुक्काबाज़’ आज सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। कैसी है फिल्म चलिए जानते हैं ?
 
 
स्टोरी

फिल्म ‘मुक्काबाज़’ उत्तर प्रदेश के बरेली जिले की कहानी है। फिल्म की कहानी मुक्केबाज़ श्रवण कुमार (विनीत कुमार सिंह) के इर्द-गिर्द घूमती है। श्रवण कुमार स्थानीय बाहुबली भगवान दास मिश्रा (जिमी शेरगिल) के यहां मुक्केबाज़ी की ट्रेनिंग ले रहा है। इसी बीच श्रवण कुमार को भगवानदास मिश्रा की भतीजी सुनैना मिश्रा (जोया हुसैन) से प्यार हो जाता है। भगवानदास मिश्रा से बिना अनुमति लिए सुनैना के माता-पिता उसकी शादी श्रवण कुमार से कर देते हैं। शादी के बाद अब सुनैना का सपना है कि श्रवण कुमार बड़ा मुक्केबाज़ बने लेकिन भगवानदास मिश्रा श्रवण कुमार को किसी भी हाल में मुक्केबाज़ नहीं बनने देना चाहता। श्रवण कुमार और भगवानदास मिश्रा की लड़ाई में कोच संजय कुमार (रवि किशन) श्रवण कुमार का साथ देने का फैसला करते हैं। अब श्रवण कुमार और भगवानदास मिश्रा के बीच की लड़ाई में किसकी जीत होती है, यह जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।
 
 
डायरेक्शन
 
फिल्म को डायरेक्ट अनुराग कश्यप ने किया है। अगर डायरेक्शन की बात करें तो अनुराग ने फिल्म का डायरेक्शन बेहतरीन तरीके से किया है। फिल्म की कहानी ने अनुराग कश्यप के डायरेक्शन को और भी शानदार बना दिया है। फिल्म का फर्स्ट पार्ट दूसरे पार्ट की अपेक्षा ज्यादा बढ़िया है, बस फिल्म की लंबाई थोड़ी कम होती तो फिल्म और भी बढ़िया बन जाती। फिल्म का स्क्रीनप्ले ठीक है और सिनेमेटोग्राफी भी बढ़िया है। फिल्म के डायलॉग भी काफी अच्छे बन पड़े हैं। अगर म्यूजिक की बात करें तो फिल्म का म्यूजिक औसत दर्जे का है सिर्फ पैतरा गाना ही अच्छा बन पड़ा है।
 
 
परफॉरमेंस
 
अगर परफॉरमेंस की बात करें तो विनीत कुमार सिंह ने जबरदस्त अभिनय किया है। उनकी परफॉरमेंस देखकर ऐसा लगता है जैसे शायद ही कोई अभिनेता श्रवण कुमार का किरदार उनसे बेहतर कर पाता। ज़ोया हुसैन का भी अभिनय लाजवाब है। जिमी शेरगिल ने भी अपने नेगेटिव किरदार को काफी दमदार तरीके से निभाया है। रवि किशन का अभिनय भी संतोषजनक है।
 
 
क्यों देखें
 
फिल्म ‘मुक्काबाज़’ एक सच्ची घटना पर आधारित बढ़िया फिल्म है जिसमें आपको वो हर एक चीज नजर आएगी जो एक सफल फिल्म में होती है। फिल्म में स्पोर्ट्स में चल रही धांधली और जातिवाद के मुद्दे को भी बखूबी दिखाया गया है इसलिए आपको यह फिल्म जरूर देखनी चाहिए।
 
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *