रॉयल स्‍टैग बैरल सिलेक्‍ट लार्ज शॉर्ट फिल्‍म्‍स प्रस्‍तुत करते हैं ‘अधीन’

adheen news
रॉयल स्‍टैग बैरल सिलेक्‍ट लार्ज शॉर्ट फिल्‍म्‍स प्रस्‍तुत करते हैं एक परफेक्‍ट शॉर्ट फिल्‍म ‘अधीन’। यह एक असहाय पिता और बिखरे परिवार की कहानी है। आर्ट तथा डिजाइन प्रोफेशनल और निर्देशक यश वर्मा द्वारा निर्देशित इस शॉर्ट फिल्‍म में दिग्‍गज अभिनेता संजय मिश्रा, बोल्‍ड तथा काबिल अभिनेत्री अनुप्रिया गोयनका और थियेटर कलाकार, नीरज पुरोहित प्रमुख भूमिकाओं में हैं।
30 मिनट की शॉर्ट फिल्‍म, ‘अधीन’ एक पिता की कहानी है जोकि अपने बच्‍चों को उनकी बेहद बीमार मां से मिलवाने ले जाता है। वह परिवार को फिर से मिलाने के उद्देश्‍य से ऐसा करता है। बेटा अपनी मां की हालत देख नहीं पा रहा है, वहीं बेटी अभी भी इस बात से नाराज है कि जब वह छोटी थी तो उसकी मां ने उसे घर के बाहर कर दिया था। यह कहानी उस पहलू को सामने लाती है जब वह पिता जीवन में पहली बार कोई कदम उठाता है और अपने बच्‍चों को जीवन बदल देने वाले निर्णय के साथ छोड़ देता है।
इस फिल्‍म के बारे में बताते हुए, निर्देशक यश वर्मा कहते हैं, ‘’अधीन’ जैसी फिल्‍म बनाना अपने आपमें एक अनुभव की तरह है, जोकि मौजूदा समय में ज्‍यादातर उन बुजुर्गों की हालत बयां करता है जोकि ‘एक परिवार होने का क्‍या अर्थ है’,  उसे नये सिरे से परिभाषित करने की कोशिश करता है। संजय सर के साथ काम करना हमेशा ही सम्‍मान की बात होती है और हमेशा की ही तरह उन्‍होंने इस फिल्‍म में नायक पिता की भावनाओं को बखूबी पेश किया है। रॉयल स्‍टैग बैरल सिलेक्‍ट लार्ज शॉर्ट फिल्‍म्‍स जैसे प्‍लेटफॉर्म पर यह फिल्‍म दिखाने के लिये मैं बेहद खुश हूं। यह प्‍लेटफॉर्म शॉर्ट फिल्‍म कैटेगरी में नये निर्देशकों के लिये परिदृश्‍य बदलने का माध्‍यम बन रहा है।‘’
फिल्‍म पर प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त करते हुये संजय मिश्रा ने कहा, ”बतौर कलाकार मुझे उन किरदारों को निभाना अच्‍छा लगता है, जो हमारे आस-पास के लोगों द्वारा अत्‍यधित प्रेरित होते हैं। यश की शॉर्ट फिल्‍म ‘अधीन’ के लिये उनके साथ काम करके मुझे बेहद खुशी हो रही है। यह फिल्‍म समूचे भारत में परिवारों की समस्‍याओं को सही तरीके से प्रदर्शित करती है। मुझे लगता है कि इन दिनों दर्शक विभिन्‍न फॉर्मेट्स के कंटेंट को लेकर ज्‍यादा खुले विचारों वाले हैं और यह देखकर काफी अद्भुत अनुभव हो रहा है कि रॉयल स्‍टैग बैरल सेलेक्‍ट लॉर्ज शॉर्ट फिल्‍म्‍स जैसे प्‍लेटफॉर्म्‍स उन्‍हें सशक्‍त एवं सार्थक सिनेमा को देखने का एक अवसर उपलब्‍ध कराता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *